Cancer Treatment कैंसर का इलाज घर पर कैसे करें

Cancer Treatment कैंसर का इलाज नही
Spread the love

 Cancer Treatment कैंसर का इलाज घर पर कैसे करें

दोस्तों आज कल एक बहुत ही भयावा और जानलेवा बीमारी देश में घुस गई है जिसका नाम है कैंसर ! सभी लोग इसके नाम से भी डरते हैं, और किसी को हो जाए तो उसको साथ ही लेकर जाती है ! आज कल इसके केस काफी मात्रा में बढ़ रहे हैं ! और यहाँ भारत में लग – भग 25 लाख की संख्या में मरीज है, जिन को कैंसर हो चूका है ! और दिन ब दिन इन मरीजों की संख्या में इजाफा हो रहा हैं ! एलोपैथी में Cancer Treatment कैंसर का इलाज है ही नही ! इसलिए एलोपैथी के सभी डॉक्टरों ने इस बीमारी के सामने अपने औजार डाल दिये हैं ! मित्रो हर साल लगातार 15 से 20 लाख मरीजों की मोत इस बिमारी से हो रही है ! और नये नये केस सामने आ रहे हैं !

जैसा कि आप देख सकते है, कि जितने भी मरीजों ने एलोपैथीक Cancer Treatment करवाया ! या एलोपैथीक दवाई ली सायद ही कोई बच पाया हो ! क्योंकि एलोपैथीक में Cancer Treatment कैंसर का इलाज इतना खतरनाक है, कि मरीज बीमारी की बजाय Cancer Treatment कैंसर का इलाज से ही मर जाता हैं ! इसका सीधा सा मतलव एक ही है कि मरीज तो मरेगा ही और आपका पैसा भी चला    जाएगा ! डॉक्टर आप को यों ही भ्रमित करता रहेगा कि आपका मरीज 6 महीने में ठीक हो जाएगा ! आपका मरीज 8 महीने में ठीक हो जाएगा, और होता जाता कुछ भी नही ! डॉक्टर सिर्फ आपका पैसा खाना चाहता है और कुछ नही ! और अन्त में मरीज मर ही जाता है !

 कैंसर के इलाज Cancer Treatment पर राजीव दीक्षित के विचार :-

राजीव दीक्षित जी Cancer Treatment के बारे में कहते हैं, कि आज तक एैसा हुआ नही कि किसी मरीज की “CHEMOTHREPY” की गयी हो और वह बच गया हो ! इस लिए अगर आपके घर में किसी को कैंसर हो गया है ! तो उस पर ज्यादा खर्च मत कीजिये क्योंकि यह Cancer Treatment कैंसर का इलाज उसको ठीक नही कर पाएगा ! लेकिन उस को इतना ज्यादा कष्ट होगा की उसकी रूह कांप उठेगी ! क्योंकि Cancer Treatment कैंसर के इलाज में जो  ANTI CANCER MEDICINE  दी जाती है ! और जो इंजेक्शन लगाए जाते हैं, उससे रोगी की हालत एैसी हो जाती है, कि हम उसे पहचान भी नही पाते ! इन  ANTI CANCER MEDICINE,  और INJECTION व CHEMOTHREPY की वजह से उसके सारे बाल उड़ जाते हैं ! आप उसको इतना कष्ट क्यों दे रहे हो !

बस यह दिखाने के लिए की आपके पास बहुत पैसा है ! या फिर अहंकार इतना है कि मैं तो Cancer Treatment कैंसर का इलाज करके ही मानूंगा ! लेकिन इससे होने वाला कुछ भी नही ! आप सभी जानते हैं कि मरीज को CHEMOTHREPY दे दो, PHOTOTHREPY भी दे दो ! और तो और COBALTTHREPY भी दे दो ! शरीर पर इसका बड़ा ही विपरीत प्रभाव पड़ता है ! इससे शरीर की रोग प्रतिरोधक क्षमता (RESISTANCE POWER) भी खत्म हो जाती है ! इसमें डॉक्टर कहता है कि हम CHEMOTHREPY से कैंसर के सैल्स को मरना चाहते  है ! और कैंसर का इलाज कर रहे हैं, लेकिन ये एलोपेथीक ट्रीटमेंट इतना उल्टा है कि इससे शरीर के अच्छे सैल भी साथ में ही मर जाते हैं !

आगे राजीव दीक्षित जी कहते हैं कि कैंसर का कोई भी मरीज, CHEMOTHERAPY लेने के बाद उनके पास आया तो वे उसे बचा नही पाए ! लेकिन इसके विपरीत यदि कोई मरीज Cancer Treatment कैंसर का इलाज लिए बिना, CHEMOTHERAPY और बीना किसी एलोपैथी  लिए राजीव दीक्षित जी के पास आया ! चाहे स्टेज STAGE कोई भी हो FIRST हो या THIRD कोई भी मरीज को उन्होंने मरने नही दिया, वो सब जिन्दा हैं इसका मतलब क्या है ? आप अपने पड़ोसियों की ज्यादा मत मानिये, क्योंकि आज कल हमारे RELATIVES हमे बहुत ही ज्यादा EMOTIONALLY EXPLOIT भी करते हैं !

घर में किसी को भी कोई बीमारी हो जाए तो रिश्तेदार सबसे पहले ये ही कहते हैं ! कि  इसको PGI ले जाओ इसको फलाने होस्पिटल ले जाओ, इसको ढीमकाने होस्पिटल लो जाओ और तो और आपका डॉक्टर बोलता है कि आप तो बड़े कंजूस हो ! अपनी माँ के लिए ये भी नही कर सकते ! अपने बाप के लिए इतना भी नही कर सकते ! ये बहुत  खतरनाक लोग होते हैं आपका जीना हराम कर देते हैं ! और बाद में होता क्या है ? आपको अच्छे से पता है ! TREATMENT THROAT INFECTION

कैंसर का इलाज Cancer Treatmentआयुर्वेदिक औषधि से :-

आपको पता ही है कि एलोपैथी में Cancer Treatment कैंसर का इलाज नही ! लेकिन इसके विपरीत आप कैंसर का इलाज Cancer Treatmentआयुर्वेद में कर सकते है ! पहले तो एैलोपैथीक डॉक्टर कहते थे कि इसका इलाज तो हो ही नही सकता ! लेकिन अब वे भी मानते है कि आयुर्वेद में इसका इलाज सम्भव है ! हमारे घर में ही  कैंसर का इलाज Cancer Treatment उपलब्ध है ! जिसका नाम है “हल्दी”, इस हल्दी में इतनी ताकत है, कि यह कैंसर को खत्म कर सकती है ! इस हल्दी में जो तत्व मौजूद है उसका नाम “करक्यूमिन”(CURCUMIN) यह कैंसर को खत्म करने की ताकत रखता है ! इसके अलावा दुनिया में एैसी कोई दवा नही जो पूर्ण रूप से इसको खत्म कर से ! इसको प्रक्रति ने हमे दिया है, यानी समझें तो भगवान ने ही हमे दिया है !

एक और कैंसर का इलाज Cancer Treatment हमारे घर में ही है ! और उसमे भी करक्यूमिन(CURCUMIN) भरपूर मात्रा में पाया जाता है, वो है गौमूत्र ! गौमूत्र यानी शुद्ध देशी भारतीय गाय का मूत्र ! इससे भी कैंसर का इलाज Cancer Treatment किया जाता है ! इसके लिए हमे गौमूत्र को पतले और साफ कपड़े की आठ परतें बनाकर छान लेना है ! अब हमारे पास दो औषधियाँ हैं एक गौमूत्र और दूसरा हल्दी तो आप आसानी से कैंसर का इलाज Cancer Treatment कर सकते हैं !

कैंसर का इलाज Cancer Treatment करने वाली औषधि बनाने की विधि :-

देशी भारतीय गाय का मूत्र एक कप, आधा चमच हल्दी इन दोनों को मिलाकर अच्छे से उबलना है, व ठंडा कर लेना है ! एक और आयुर्वेदिक औषधि है जिसका नाम है पुनर्नवा ! यह भी एक  ANTI CANCER MEDICINE है ! इसको भी आधा चमच इसमें मिला लेना इससे औषधि की कार्य क्षमता बढ़ जाती है ! यह किसी भी पन्शारी की दुकान पर, या आयुर्वेदिक की दुकान पर आसानी से मिल जाता है !

कैंसर का इलाज करने के लिए रोगी को कैसे दें :-

कैंसर का इलाज करने के लिए जो औषधि हमने बनाई है ! उसको चाय की तरह चुस्कियाँ लेकर यानी घूंट- घूंट कर पीना है ! एक बात हमेशा याद रखें कि गौमूत्र हमेशा देशी गाय का ही हो ! और गाय अगर काली हो तो और भी ज्यादा अच्छा है ! कभी भी हमे जर्सी या अमेरिकन गाय का मूत्र प्रयोग नही करना ! कैंसर का इलाज Cancer Treatment करने के लिए इस औषधि को हम ज्यादा मात्रा में भी बना सकते हैं ! सभी औषधियों को सही मात्रा में मिला कर औषधि बना लीजिये और काँच के पात्र, या काँच की बोतल में भर कर रूम टेम्प्रेचर “ROOM TEMPERATURE” पर रखना है !

इसको कभी भी फ्रिज या धुप में नही रखना, इससे यह औषधि खराब हो जाती है ! ये एक एैसी दवा है जो कैंसर की सैकिंड स्टेज और कभी – कभी थर्ड स्टेज में भी अच्छा परिणाम देती है ! और कैंसर का इलाज Cancer Treatment करती है ! लेकिन कई बार जब फोर्थ स्टेज या उससे ऊपर का कैंसर हो तो परिणाम नही आता ! अगर आपके मरीज ने CHEMOTHERAPY शुरु कर रखी है, तो भी इसका परिणाम नही मिलता ! बल्कि राजीव दीक्षित जी तो ये कहते हैं कि एैसे मरीज को आप हाथ ही न लगाएं ! क्योंकि उसके ठीक होने के आसार बहुत ही कम हो जाते हैं ! अगर उसने CHEMOTHERAPY लेना शुरु कर दिया !

इसके बाद हम सिर्फ उसके लिए भगवान से प्रार्थना ही कर सकते हैं ! और यदि रोगी ने कैंसर का इलाज Cancer Treatment एलोपैथी में नही लया, तो उसको ऊपर वाली औषधि  दी जा सकती है, और परिणाम भी आते है ! क्योंकि यह दवाई हमारे शरीर की प्रति रोधक क्षमता को बढ़ती है ! और एैसा होने से कैंसर सैल भी खत्म होने लगता है ! और इस तरह रोगी ठीक होने लगता है !

कैंसर का इलाज Cancer Treatment करने वाली औषधि बनाते समय ध्यान देने योग्य बातें :-

इसके अलावा और भी कुछ ध्यान देने योग्य बातें हैं ! जैसे कि औषधि बनाते समय जिस गाय का मूत्र आप प्रयोग कर रहे हैं, वो गर्भवती ना हो ! इसके अलावा आप दो साल की बछडी का मूत्र भी उपयोग कर सकते हैं ! और यदि गाय काली होतो और भी अच्छा ! ये सारी बाते तो हुई Cancer Treatment कैंसर के इलाज पर, लेकिन हम एैसा भी कुछ कर सकते हैं कि कैंसर हो हि ना ! तो इसके लिए हमे कुछ बातों का ध्यान हमेशा रखना चाहिए !

कैंसर से बचने के विषेस उपाय :-

इसके लिए हमे हमेशा अपने खाने पिने पर पूरा ध्यान रखना है ! हमारे खाने में हमे रसेदार खाना ज्यादा इस्तेमाल करना हैं ! इसके अलावा हमे अपने खाने में हमेशा छिलके वाली दालें, छिलके वाली सब्जियां और छिलके वाले ही चावल प्रयोग करने है ! एक बात का और ध्यान रखें कि हमने कभी भी (DON’T USED REFINED OIL, DALDA GHEE) रिफाइनड तेल, और डालडा घी का प्रयोग नही करना ! और यदि घी खाना ही है तो देशी गाय का खा सकते है ! तो एैसा भोजन करने से आप को कैंसर नही हो सकता !

कैंसर होने का मुख्य करण :-

कैंसर होने का सबसे बड़ा करण है बीडी ,गुटखा और किसी भी तरह का धूम्रपान और तम्बाखू ! इन को तो कभी भी हाथ ना लगाएं कैंसर के   लग – भग सारे कैस इन्ही के करण हैं ! कैंसर के बारे में सभी विशेषज्ञ चाहे वो डॉक्टर हो साइंटिस्ट हो, या कोई वैज्ञानिक हो सब की एक ही राये है कि Cancer Treatment कैंसर का इलाज कोई नही, बस बचाव ही उपाय है ! बोतल बन्द पानी पीने से भी कैंसर हो सकता है जाने कैसे ?

महिलाओं में कैंसर के मुख्य कारण और उपचार :-

खासकर महिलाओं में कैंसर ज्यादा बढ़ रहा है ! सबसे ज्यादा उनके (UTERUS) गर्भाशय में और(CHEST) स्तनों में, इन जगहों में ये बहुत ज्यादा हो रहा है ! पहले तो यह TUMOR या गाँठ के रूप में होता है, लेकिन जब इसकी सम्भाल नही होती तो यह कैंसर का रूप धारण कर लेता है ! इसलिए माताओं और बहनों को हमेशा ध्यान रखना चाहिए, कि कोई गाँठ न हो अगर हो भी गई है तो उसको जल्दी ठीक करें ! उसको छुपाएँ नही क्योकि PREVENTION  IS BETTER THEN CURE यानी इलाज से तो बचाव अच्छा ! तो जैसे ही आपको शरीर के किसी भी हिस्से में गाँठ, या बढ़ा हुआ महसूस हो तो तुरंत आप सावधान हो जाएँ ! हालांकि कि सभी तरह की रसोली और गाँठ कैंसर नही होते, इसमें से सिरफ दो या तीन परसेंट ही कैंसर बनते है !

और वो भी जब उनको समय पर Cancer Treatment कैंसर का इलाज, करने वाली औषधि ना दी जाए और सम्भाला न जाए ! तो फिर भी आपको सचेत तो रहना ही पड़ेगा क्योंकि यह एक खतरनाक जानलेवा बीमारी है ! यदि किसी माता या बहन को कोई गाँठ हो भी गयी है तो, इसको तुरंत गलाने की लिए एक बहुत ही अच्छी और सबसे सस्ती दवा है ! “चुना” यह किसी भी पान वाले कि दुकन पर या चुने वाले की दुकान पर बढ़ा सस्ता मिलता है ! यह वही चुना है जिसका प्रयोग हम दीवार में पोताई के लिए करते हैं ! इसको आप लाइये और इसको लेने की विधि भी बड़ी आसान है ! इसको एक गेहूँ के छोटे दाने के सामान पानी में या किसी भी रस, जूस सब्जी, दहीं, लस्सी आदि में आसानी से लिया जा सकता है ! इसमें ध्यान देने की एक बात है कि जिसको पेट में पत्थरी है यानी “STONE” है उसको यह चुना नही देना !

अधिक जानकारी के लिए राजीव दीक्षित जी का यह वीडियो देखें >>

दोस्तों आशा है कि आप सब को यह कैंसर का इलाज करने वाली जानकारी अच्छी और उपयोगी लगी होगी ! इससे आप किसी की जान तो बचा ही सकते है और साथ में उसका पैसा भी ! 

मित्रो जन कल्याण के लिए इस जानकारी को अपने Facebook और WhatsApp पर जरुर शेयर करें धन्यवाद !

एैसी ही अच्छी – अच्छी जानकारी के लिए Like करें हमारे पेज Rajiv Dixit Patrika को।

और एैसी ही अन्य स्वास्थ्य सम्बन्धी जानकारी के लिए ग्रुप ज्वाइन करें।

जुडें हमारे फेसबुक ग्रुप से क्लिक करें जीवन का आधार आयुर्वेद पर ! धन्यवाद  

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

© 2019 Rajiv Dixit Patrika |